[khas khabarखास खबर j
विधायक देवासी ने लगाए देवल पर आरोप

मंगलवार, 2 अगस्त 2011

विधायक ने लगाए देवल पर आरोप

videoजोईताराम भील को भाजपा के द्वारा एसटी प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष बनाने का विवाद तुल पकड़ता नजर आ रहा है। इस घटना क्रम को लेकर विधायक देवासी ने आज पंचायत समिति सभा भवन में प्रेस वार्ता का आयोजन किया। उन्होंने बताया कि जोईताराम भील की पत्नी मणीबेन भील ने कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में प्रधान बनकर पार्टी की सेवा की है। २००३ के बाद जोईताराम कभी निर्दलिय प्रत्याशी रतनाराम चौधरी व हीरालाल विश्रोई के साथ रहा। गत एक वर्ष से जोईताराम के रिश्तेदार जो कांग्रेस पार्टी में सक्रिय कार्यकर्ता है। उन्होंने विधायक देवासी से जोईताराम को पुन: कांग्रेस पार्टी में लाने का निवेदन किया, जिस पर गत 1५ जुलाई को ब्लॉक कांग्रेस कार्यालय में ब्लॉक अध्यक्ष परसराम ढ़ाका के पदभार ग्रहण समारोह के दौरान ७०० लोगों की उपस्थिति में जोईताराम ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। देवासी ने बताया कि जोईताराम की पत्नी पूर्व प्रधान मणीबेन ने आज सोमवार को मेरे समक्ष पेश होकर बताया कि भाजपा जिलाध्यक्ष व उनके समर्थकों के दबाव व धमकी देने से जोईताराम ने भाजपा में रहने की बात कही है। मणी बेन ने अपनी आस्था कांग्रेस पार्टी के प्रति जताई है। मणीबेन के साथ उकाशंकर श्रीमाली, पीराराम भील, भुताराम भील सहित कई भील समाज के लोगों ने भी आज विधायक से इस घटनाक्रम को लेकर केजीबी जालेरा कलां में उनके निरीक्षण के दौरान मुलाकात कर वस्तुस्थिति की जानकारी दी।
विधायक देवासी ने देवल पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले दिनों सिणधरा बांध में गोविंदसिंह हत्याकांड को लेकर भाजपा जिलाध्यक्ष की चुपी कई संदेह पैदा कर रही है। गोविंदसिंह भाजपा जिलाध्यक्ष के गांव पहाडपुरा का निवासी था, व जिलाध्यक्ष देवल के जीप चालक का अंतरंग मित्र था। मृतक के परिजनों ने विधायक के समक्ष पेश होकर उक्त हत्याकांड में सहयोग देने की गुहार लगाई है। देवासी ने कहा है कि देवल यह स्पष्ट करे कि गोविंदसिंह हत्याकांड के मामले में अभी तक उन्होंनें किसी अधिकारियों को जांच के लिए दबाव क्यों नही बनाया है। मृतक के परिजनों के साथ उनका सहयोग क्यों नही मिल रहा है।
उन्होंनें बताया कि पूर्व विधायक रतनाराम चौधरी ने मोबाईल पर इस जोईताराम घटनाक्रम को लेकर विस्तृत में जानकारी देकर खुलाशा किया है। जिसकी ऑडियो रिकार्ड इनके पास है। साथ ही मणीबेन की विधायक से मुलाकात की भी आज ऑडिय़ों व विडियों रिर्काडिंग भी पत्रकारों के समक्ष दिखाकर इस घटनाक्रम में नाटकीय मोड देखने को मिला है।
जानकारी के मुताबिक, भाजपा व कांग्रेस के लिए जोईताराम होली का नारियल बनता जा रहा है। असली लडाई विधायक व देवल के बीच शुरू होती नजर आ रही है। प्रेस वार्ता के दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष पर सुंधामाता सहित कई भूमि घोटालों में भी देवल पर आरोप लगाए गए है। जिला भाजपा में देवल विरोधी गुट भी सक्रिय होता नजर आ रहा है। उन्होंनें इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी जयपुर स्थित भाजपा मुख्यालय में पहुंचाकर देवल को निपटाने की तैयारी कर ली है।